RSS Feed

Monthly Archives: मई 2013

Banjara Man/ बंजारा मन

Posted on

बंजारा मन है ये पागल हवा की तरह
इसमें आवारापन है हवा की तरह
इसको रोको नहीं इसको टोको नहीं
जाने दो जाना चाहे जहाँ ये वहां।
नाचे लहरों पे ये डूबे मंझधार में
बादलों की तरह उड़े आकाश में
इसको रोको नहीं…………..।
कोई सीमा नहीं कोई बंधन नहीं
कभी इस देश में कभी उस देश में
इसको रोको नहीं……………।
बंजारा मन है ये पागल हवा की तरह
इसमें आवारापन है हवा की तरह
इसको रोको नहीं इसको टोको नहीं
जाने दो जाना चाहे जहाँ ये वहां।

Sharing Thoughts

बंजारा मन है ये पागल हवा की तरह
इसमें आवारापन है हवा की तरह
इसको रोको नहीं इसको टोको नहीं
जाने दो इसको चाहे जहाँ ये वहां।
नाचे लहरों पे ये डूबे मंझधार में
बादलों की तरह उड़े आकाश में
इसको रोको नहीं…………..।
कोई सीमा नहीं कोई बंधन नहीं
कभी इस देश में कभी उस देश में
इसको रोको नहीं……………।
बंजारा मन है ये पागल हवा की तरह
इसमें आवारापन है हवा की तरह
इसको रोको नहीं इसको टोको नहीं
जाने दो जाना चाहे जहाँ ये वहां।

View original post

SAATH/ साथ

Posted on

साथ

प्यार कब तक रहेगा बस इतना बतादो।

ना मुझसे करो चाँद तारों की बातें ,ना महलों ना मह्गीं सौगातों की बातें,
साथ कब तक रहेगा इतना बतादो, प्यार कब तक रहेगा बस इतना बतादो
इबादत नहीं चाहिए मुझको तेरी, पलकों पर बिठा कर भी ना तुम मुझको रखना,
साथ कब तक रहेगा बस इतना बतादो, प्यार कब तक रहेगा बस इतना बतादो|
राह दुश्वार हो फेर मुंह तुम ना लोगे ,आंधी तूफां में भी हाथ थामे रहोगे
साथ मुश्किल में दोगे बस इतना बतादो, प्यार कब तक रहेगा बस इतना बतादो।
ज़ुल्फ़ ज़र होगी इकदिन तुम्हे तो पता है,जवानी ढलेगी तुम्हे तो पता है,
साथ मरने तक दोगे बस इतना बतादो,

प्यार कब तक रहेगा बस इतना बतादो।

 

Sharing Thoughts

ना मुझसे करो चाँद तारों की बातें ,ना महलों ना मह्गीं सौगातों की बातें,
साथ कब तक रहेगा इतना बतादो, प्यार कब तक रहेगा बस इतना बतादो
इबादत नहीं चाहिए मुझको तेरी, पलकों पर बिठा कर भी ना तुम मुझको रखना,
साथ कब तक रहेगा इतना बतादो, प्यार कब तक रहेगा बस इतना बतादो|
राह दुश्वार हो फेर मुंह तुम ना लोगे ,आंधी तूफां में हाथ थामे रहोगे
साथ मुश्किल में दोगे इतना बतादो, प्यार कब तक रहेगा बस इतना बतादो।
ज़ुल्फ़ ज़र होगी इकदिन तुम्हे तो पता है,जवानी ढलेगी तुम्हे तो पता है,
साथ मरने तक दोगे इतना बतादो, प्यार कब तक रहेगा बस इतना बतादो।

~Indira

View original post

EK Safed JHOOT/एक झूठ

Posted on

तीन मकान

दो टूटे फूटे एक की छत ही नहीं
जिसकी छत ही नहीं उसमें रहते थे तीन दोस्त
दो अंधे बहरे एक के हाथ पाँव  ही  नहीं
जिसके हाथ पाँव ही नहीं उसकी थी तीन बीबियाँ
दो भाग गयीं एक पास रहती ही नहीं
जो पास रहती ही नहीं उसके थे तीन बेटे
दो अनपढ़ रह गए  एक के लिखना जानता ही नहीं
जो लिखना जानता नहीं  नहीं उसने लिखे तीन उपन्यास
दो आधे अधूरे रह गए एक का अदि अंत ही नहीं
जिसका अदि अंत ही नहीं उसे मिले तीन पुरस्कार
दो एकदम  बेनाम एक का नाम पता  ही नहीं|

‘कहते हैं झूट के पाँव नहीं होते.’

(बचपन में एक कविता पड़ी थी ‘एक झूठ’ अब कविता तो याद नहीं रही पर उस शीर्षक से अनुप्रेरित हो कर इस कविता का जन्म हुआ.)

Sharing Thoughts

एक देश में थे तीन शहर दो उजड़े उजड़े , एक बसा ही नहीं
जो बसा ही नहींउसमें थे तीन मकान
दो टूटे फूटे एक की छत ही नहीं
जिसकी छत ही नहीं उसमें रहते थे तीन दोस्त
दो अंधे बहरे एक के हाथ पाँव ही नहीं
जिसके हाथ पाँव ही नहीं उसकी थी तीन बीबियाँ
दो भाग गयीं एक पास रहती ही नहीं
जो पास रहती ही नहीं उसके थे तीन बेटे
दो अनपढ़ रह गए एक लिखना जानता ही नहीं
जो लिखना जानता नहीं नहीं उसने लिखे तीन उपन्यास
दो आधे अधूरे रह गए एक का अदि अंत ही नहीं
जिसका अदि अंत ही नहीं उसे मिले तीन पुरस्कार
दो गुमनाम एक का नाम पता ही नहीं|

‘कहते हैं झूट के पाँव नहीं होते.’

(बचपन में एक कविता पड़ी थी ‘एक झूठ’ अब कविता तो याद नहीं रही पर उस शीर्षक से अनुप्रेरित हो कर इस कविता का जन्म…

View original post 40 और  शब्द

PREMRAAG/ प्रेमराग

Posted on

प्रेम क्या है मुझे पता नहींप्रेम क्या नहीं है वो बताती हूँ |

प्यार रास नहीं,रंग रोमांस नहीं
मन में पल भर को उठा
कोई खुमार नहीं|
प्यार सौदा नहीं,कोई व्यापर नहीं
तू ना दे तो में ना दूं
ऐसा कारोबार नहीं|
सृष्टि बस मेरी,किसीऔर का अधिकार नहीं
जब हो सोच ऐसी
फिर तो वहां प्यार नहीं|
प्यार अकृतज्ञता नहीं
इर्ष्या और स्वार्थ नहीं
कटुता और हिंसा से
इसको सरोकार नहीं|
इसके बाद जो भी बचे वोही तो प्यार है
तुम स्वयं प्यार हो बाकि सब बेकार है|

http://rosesandcoffee.wordpress.com/2014/11/18/what-is-love/

Sharing Thoughts

प्रेम क्या है मुझे पता नहींप्रेम क्या नहीं है वो बताती हूँ |

प्यार रास नहीं,रंग रोमांस नहीं
मन में पल भर को उठा
कोई खुमार नहीं|
प्यार सौदा नहीं,कोई व्यापर नहीं
तू ना दे तो में ना दूं
ऐसा कारोबार नहीं|
सृष्टि बस मेरी,किसीऔर का अधिकार नहीं
जब हो सोच ऐसी
फिर तो वहां प्यार नहीं|
प्यार अकृतज्ञता नहीं
इर्ष्या और स्वार्थ नहीं
कटुता और हिंसा से
इसको सरोकार नहीं|
इसके बाद जो भी बचे वोही तो प्यार है
तुम स्वयं प्यार हो बाकि सब बेकार है|

View original post

Pyar Hai To Zindgi Hai/ जिन्दगी है तो प्यार है

Posted on

जिन्दगी है तो प्यार है

प्यार है तो अपेक्षाएं हैं

अपेक्षाएं हैं तो शिकायतें हैं

शिकायतें हैं तो तकरार है

  तकरार   है तो दूरी है

दूरी है तो यादें है

यादें है तो मायूसी है

मायूसी है तो तड़प है

  तड़प है  तो प्यार है

प्यार है तो जिन्दगी है

जिन्दगी है तो प्यार है …..

Indira

Sharing Thoughts

जिन्दगी है तो प्यार है

प्यार है तो अपेक्षाएं हैं

अपेक्षाएं हैं तो शिकायतें हैं

शिकायतें हैं तो तकरार है

  तकरार   है तो दूरी है

दूरी है तो यादें है

यादें है तो मायूसी है

मायूसी है तो तड़प है

  तड़प है  तो प्यार है

प्यार है तो जिन्दगी है

जिन्दगी है तो प्यार है …..

View original post

ASMANJAS/ असमंजस

Posted on

चिंता में जनता पड़ी
किसको दे ये वोट
हर किसी में पाइए
कोई ना कोई खोट
नींद है भागी
भूख मर गयी
चिंता एक सताए
देश की नैय्या
भैय्या किन
हाथों में
सौंपी जाये
ईमान के लिए मरजाते
कहाँ गए वो लोग
बचे हुए तो मिलबांट
के खूब लगाये भोग
जनता भी तो
अवतार की
आस में धुनी रमाये
खुद का भी
कर्तव्य है कुछ
कौन इसे
समझाए
छोटे छोटे स्वार्थों में
सुब कुछ हैं बिसराए
टीवी,ठर्रा जो भी
दे दे
उसे वोट दे आये

 

Sharing Thoughts

चिंता में जनता पड़ी
किसको दे ये वोट
हर किसी में पाइए
कोई ना कोई खोट
नींद है भागी
भूख मर गयी
चिंता एक सताए
देश की नैय्या
भैय्या किन
हाथों में
सौंपी जाये
ईमान के लिए

मरजाते
कहाँ गए वो लोग
बचे हुए तो मिलबांट
के खूब लगाये भोग
जनता भी तो
अवतार की
आस में धुनी रमाये
खुद का भी
कर्तव्य है कुछ
कौन इसे
समझाए
छोटे छोटे स्वार्थों में
सुब कुछ हैं बिसराए
टीवी,ठर्रा जो भी
दे दे
उसे वोट दे आये

View original post

Moody/कभी कभी

Posted on

कभी कभी,
भीड़ में भी आप अकेले रहते हो
कभी कभी अकेले में भी भीड़ आप के अन्दर रहती है
ख्यालों की, इच्छाओं की, वासनाओं की
जाने पहचाने लोगों की,दोस्तों,दुश्मनों  की
कभी कभी,
हँसते हँसते रो देते हो
या, रोते रोते हंस देते हो
कोई इच्छा पूरी हो जाये तो, कोई प्यार से मनाये तो
कभी कभी,
मांगे से दमड़ी नहीं देते
कभी बिन मांगे मोती दे जाते हो,
आपका मन आजाये तो, किसी पे प्यार आजाये तो
कभी कभी
क्या क्या नहीं होता, बस
मूड, मौका, मन और ख्याल आजाये तो.
कभी कभी, कुछ भी समझ नहीं आता
और यूँही लिखे चले जाते हो.

Indira

 

Sharing Thoughts

कभी कभी हमबिस्तर भी मीलों दूर हो  जाते हैं
कभी हजारों मील दूर भी दिल के पास आजाते हैं
बस! दिलों में प्यार होना चाहिए|
कभी तो  थाली भर भोजन भी तृप्त नहीं कर पाता है
कभी तो सूखी रोटी में  भगवान  नजर आ जाते हैं
बस! भूख होना चाहिए|
कभी हजारों पन्नों में भी  दिल की बात नहीं आती है
कभी कभी तो एक नजर भी  कितना कुछ कह जाती है
बस! व्यक्त करना आना चाहिए |
कभी हवा का झोंका भी धराशायी कर जाता है
कभी हजारों तूफां भी हिला नहीं तुम्हें पाते है
बस! हौसला होना चाहिए|

View original post

Hart Haiku

Fast-takeaway Inspirations | Susan L Hart

Blog Site of Gabriele R.

Post, news, diary... All the world around me, ALL THE WORDS AROUND YOU

Sharing

NEUTRALIZE THE FREE RADICALS

David Redpath

We're all on a road to somewhere.

Zion, Sion and Zsion News and Journal

About Politics, Religion, Culture, Society, Joy, Thank, Praise, Faith, Hope, Love, Community, Freedom, Peace, Islam, Justice, Truth, Patience and much more.

Life in Yellows

Let the warm yellows soothe your soul...

Roth Poetry

Poetry From the Heart!

Stine Writing

Blogging and Sharing

The Myth of Trees

sharing the stories of interconnection

With Nature-tanusrirchokhe

A place for boosting up your mind by feeding motivational thoughts and enriching yourself with education.

Rantings Of A Third Kind

The Blog about everything and nothing and it's all done in the best possible taste!

Putting My Feet in the Dirt

Thoughts and Perspectives From the Mind of a Common Girl

One Woman's Quest

Passion for writing ignites my soul's momentum

We Build Confidence through Inspiration & Motivation

In this Blog we mostly focus on building confidence, to motivate, help to release stress and ways to deal with social problems.

One Woman's Quest II

Navigating life through grandparenthood, chronic illness, dream work, and other inspirations

paeansunpluggedblog

songs unheard by the poet next door