RSS Feed

Monthly Archives: फ़रवरी 2016

Weekly Photo Challenge- State of Mind

https://dailypost.wordpress.com/photo-challenges/

This week, let your inner world and the outside one converge in a photo.

Today I’m feeling restless.

I would like to wander all alone

along these lines. Let them take me

wherever they re going.Photo0113

Advertisements

Prayer to Godess Saraswati/ माँ सरस्वती से एक प्रार्थना

माँ सरस्वती वर दे वर दे 
माँ सरस्वती वर दे वर दे
 
मेरा कंठ सुरों से भर दे भर दे
दे विद्या, बुद्धि और सुमति  
दिल में मेरे भर तेरी  भक्ति 
मूक बधिर को दे दे वानी 
बुद्धि उन्हें जो हैं  अज्ञानी 
सबको दे विद्या का दान 
बनें विनम्र भूलें  अभिमान 
एक दूजे को समझे अपना 
पूरा हो एकता का सपना
बस इतनी सुन ले अरदास  
हम सब तो है तेरे दास 
वीणा वादिनी वर दे वर दे 
~ Indira

और फिर नारी ने कहा

और फिर नारी ने कहा
हे नर !

मैं तो हमेशा से वहीँ हूँ 

जहाँ मुझे होना था 

न तुम्हारे आगे न पीछे 
न ऊपर न नीचे 
बस बराबरी में
मुझे तो कभी भी महान बनने की चाहत न थी 
तुम ही हमेशा  ऊंचा बनने की होड़ में लगे रहे 
महान बनने के रास्ते तो और भी थे
उन पर चल तुम ईश्वर बन सकते थे 
पर तुमने यह क्या किया ?   
मुझे नीचा  दिखाने की कोशिश में 
खुद से कमजोर जताने  की ख्वाहिश में 
खुद को महान  दिखाने की चाहत में 
मुझ पर बलात्कार और जुर्म कर 
खुद को ही नीचा गिरा कर 
मुझ स्वतः ही  उपर  उठा दिया 
Image2958

Painting by Sharmila Kiri

उड़ान- एक गीत

अपनी  ज़िन्दगी 

हमें ही  जीने दो

मत थोपो अपने सपने

हमें  ही बुनने दो

अच्छे और बुरे का

बस फर्क तुम बता दो

कैसे गगन में उड़ना

इतना बस सिखा दो

लकीर के फ़क़ीर

बनना नहीं हमें

नए रस्ते अपने लिए

तलाशेंगे  खुद ही हम

तुम तो बस हमें

उड़ने को छोड़ दो

या साथ हो लो हमारे

नए नए सपने बुनो

सपने बनाने की

कोई उम्र होती नहीं

छोड रूढ़ीवाद  और

पुरानी परम्पराएँ

सब नया  नहीं है बुरा

विश्वास करके देखो

मेरा हाथ पकड़ कर

फिर से उड़ कर देखो

जब सब का साथ हो

कठनाई डर  के भागेगी

मंज़िल सच हमें

खुद ब खुद तलाशेगी

Photo0090

नासमझ दिल

कितने सपने देखें
और कितना मन को मारें
दिल को कौन बताये
लाख जतन करो सब कुछ पालूं
फिर भी कुछ छूट ही जाये
दिल को कौन बताये
आधा छोड़ पूरे भाग न मनवा
जो है वो भी छिन ना जाये
दिल को कौन बताये
अपनी सीमा खुद पहचानो
जितनी चादर पाओं पसारो
दिल को कौन बताये
सब की अपनी मजबूरी है
कब तक कोई साथ निभाए
जब तक का है साथ किसीका
हंस कर ले बतियाये
दिल को कौन बताये

Babsje Heron

Great Blue Herons: A study in patience and grace

P.A. Moed

Creative Exploration in Words and Pictures

Globe&Life

Through life and strife, all may still thrive.

Mugilan Raju

Prime my subconscious, one hint at a time

thehouseofbailey

Destination Dreams

Frank J. Tassone

haikai poetry matters

Julia Elizabeth Blog

Canadian/Norwegian Blogger & Freelance Writer

radhikasreflection

Everyday musings ....Life as I see it.......my space, my reflections and thoughts !!

Trizahs RANDOM THOUGHTS

PUBLISHED AUTHOR....ONE DAY.

A Life Less Ordinary With SauraBhavna

Fight for the fairytale, it does exist

fauxcroft

living life in conscious reality

Quaint Revival

quirks, quips & photo clicks

Don't hold your breath

Tripping the world, slowly

Word of the Day Challenge

Alternative haven for the Daily Post's mourners!

Go Dog Go Café

Where writers gather

ONE TUSK

From Confusion to Self Discovery

teleportingweena

~wandering through life in my time machine...you never know where it will stop next~

A Unique Title For Me

Hoping to make the world more beautiful